हौसले की जीत / 8 साल की बच्ची को उठाकर ले जा रहा था दरिंदा, बच्चों ने पत्थर मारकर भगाया

  • पड़ोसी ही बच्ची को उठाकर गांव के बाहर ले जा रहा था
  • दो दिन बाद भी गिरफ्तार नहीं हुआ आरोपी

भोपाल.  बैरसिया तहसील के गुनगा इलाके में आठ साल की एक बच्ची को 50 साल के दरिंदे के चंगुल से छुड़ाने के लिए छोटे-छोटे बच्चों ने गजब का हौसला दिखाया। उन्होंने पत्थरों से हमला करके इस व्यक्ति को भागने पर मजबूर कर दिया।

 

गुनगा टीआई भरत सिंह के अनुसार गुरुवार दोपहर बच्ची घर के बाहर दो बच्चों के साथ खेल रही थी। तभी वहां पहुंचे गांव के दयाराम भील ने उसे गोद में उठा लिया और उससे छेड़छाड़ करते हुए गांव के बाहर ले जाने लगा। बच्ची उससे छूटने के लिए छटपटा रही थी। इस बीच उसके साथ खेल रहे दोनों बच्चे दौड़कर बच्ची की 12 साल की बहन को बुला लाए।

 

आरोपी ने बच्चों को फटकार कर डराने की कोशिश की : मौके पर पहुंचे तीनों बच्चों ने शोर मचाया तो आरोपी ने उन्हें फटकार कर डराने की कोशिश की। लेकिन बच्चों ने हिम्मत नहीं हारी और उस पर पथराव कर दिया। इसके बाद आरोपी बच्ची को छोड़कर भाग गया। बच्ची का ड्राइवर पिता रात को घर पहुंचा तो परिवार वालों ने घटना के बारे में बताया। शुक्रवार को उन्होंने थाने में इसकी शिकायत दर्ज कराई।